25.7 C
Chandigarh,IN
Wednesday, August 22, 2018
Home Authors Posts by Prof. Subhash Chander

Prof. Subhash Chander

407 POSTS 1 COMMENTS
कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र में हिन्दी विभाग में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत। जातिवाद, साम्प्रदायिकता, सामाजिक लिंगभेद के खिलाफ तथा सामाजिक सद्भभाव, साम्प्रदायिक सद्भाव, सामाजिक न्याययुक्त समाज निर्माण के लिए निरंतर सक्रिय। साहित्यिक, सांस्कृतिक व सामाजिक सवालों पर पत्र-पत्रिकाओं में लेखन।लेखन, संपादन व अनुवाद की लगभग बीस पुस्तकों का प्रकाशन प्रकाशित पुस्तकेंः साझी संस्कृति; साम्प्रदायिकता; साझी संस्कृति की विरासत; दलित मुक्ति की विरासतः संत रविदास; दलित आन्दोलनःसीमाएं और संभावनाएं; दलित आत्मकथाएंः अनुभव से चिंतन; हरियाणा की कविताःजनवादी स्वर; संपादनः जाति क्यों नहीं जाती?; आंबेडकर से दोस्तीः समता और मुक्ति; हरियणावी लोकधाराः प्रतिनिधि रागनियां; मेरी कलम सेःभगतसिंह; दस्तक 2008 व दस्तक 2009; कृष्ण और उनकी गीताः प्रतिक्रांति की दार्शनिक पुष्टि; उद्भावना पत्रिका ‘हमारा समाज और खाप पंचायतें’ विशेषांक; अनुवादः भारत में साम्प्रदायिकताः इतिहास और अनुभव; आजाद भारत में साम्प्रदायिकता और साम्प्रदायिक दंगे; हरियाणा की राजनीतिः जाति और धन का खेल; छिपने से पहले; रजनीश बेनकाब। विभिन्न सामाजिक-सांस्कृतिक संगठनों से जुड़ाव। संपादक – देस हरियाणा हरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा आलोचना क्षेत्र में पुरस्कृत।

सुभाष चंद्र – नफरत की राजनीतिक बहस और सांप्रदायिक सद्भाव व...

संपादकीय ये दाग़ दाग़ उजाला, ये शबगज़ीदा सहर वो इन्तज़ार था जिस का, ये वो सहर तो नहीं फ़ैज अहमद फ़ैज लंबे संघर्ष के बाद भारत को औपनिवेशिक...

आनंद प्रकाश – मुक्तिबोधःनैतिक साहस और वैचारिक जद्दोज़हद का कवि

गजानन माधव मुक्तिबोध का नाम पिछले दशकों में शिद्दत से उभरा है। यह क्योंकर हुआ कि जिस कवि का अपने जीवन काल में एक...

सुरेश कुमार -वैज्ञानिक मानसिकता का समाज पर प्रभाव

गतिविधियां अखिल भारतीय जन विज्ञान नेटवर्क के आह्वान पर देशभर में चलाए जा रहे अभियान के तहत अंधविश्वास, रूढिवाद, अज्ञानता, जातिवाद जैसी भयंकर कुरीतियों व...
video

अशोक गर्ग – मेवात के अनुभव

मेवात हरियाणा व राजस्थान में फैला हुआ इलाका है। मेवात को पिछड़ा क्षेत्र माना जाता है। मेवात के बारे में मेवात से बाहर के...
video

बंटवारा 1947

https://www.youtube.com/watch?v=2T0kKceD28E

देवेन्द्र सत्यार्थी – गुरु नानक की दरियादिली

विरासत नीची अन्दर नीच जाति नीची हूं अति नीचु । नानकु तिनके संगि साथि वडिया सिउ किया रीस। जिथै नीच समाली अनि तिथै नदरि तेरी बसीस।। गुरु नानक...

डा. सुभाष सैनी – तरसा होगा वो जि़ंदगी के लिए

ग़ज़ल तरसा होगा वो जि़ंदगी के लिए जिस ने सोचा है खुदकुशी के लिए दुश्मनी क्यों किसी से की जाए जि़ंंदगी तो है दोस्ती के लिए देखकर कत्लो-खून  के...

राधेश्याम भारतीय – चिंतन के इन्द्रधनुषी रंगों से सजा काव्य

पुस्तक समीक्षा https://www.youtube.com/watch?v=uk5Ci0gLocw आयुर्वेेद एवं योगा में राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित डॉ मुकेश अग्रवाल जहां चिकित्सा के क्षेत्र में मुकाम हासिल कर रहे हैं, वहीं साहित्य...

दिनेश दधीचि – अपराधी

कहानी   पार्क में पेड़ प्रतीक्षा कर रहे हैं और पौधे बालकों की तरह ठुनक रहे हैं। इन दिनों पेड़ पौधों को तीखी भूख लगने से...

कमलेश चौधरी – हरित क्रान्ति और हरियाणा का विकास

लेख हरियाणा का नाम आते ही कृषि व किसान पर आधारित प्रदेश की छवि आँखों में उभर आती है। जो हरा भरा व सम्पन्न है,...