कुलदीप कुणाल

परिचय kuldeep kunal

कविताएं

अधबने फूल की हिमायत में
डिजिटल चावल
बीस बरस की लड़की
आफत 
सभ्यता के गुमान में
आइये देखें
विदाई समारोह
सच के हक़ में
वर्जीनिया को पढ़ते हुए 
आती रहेंगीं बेटियां

 

 

Related Posts

Advertisements