Tel: +91 9416482156
Email: desharyana@gmail.com
Home हरियाणवी रागनी

हरियाणवी रागनी

 उल्टे खूंटे मतना गाडै मै त्यरै ब्याही आ रही सूं

रामकिशन राठी (रामकिशन राठी रोहतक में रहते हैं। कहानी लेखक हैं । हरियाणवी भाषा में भी निरतंर लेखन करते हैं और समाज के भूले-बिसरे व...

सावित्री बाई फुले याद यो, कररया हिन्दुस्तान तनै

मुकेश यादव प्रथम शिक्षिका होणे का, देें गौरव-सम्मान तनै सावित्री बाई फुले याद यो, कररया हिन्दुस्तान तनै ज्योतिबा तै पढ़कै नै, मन म्हं यो अहसास हुया पीड़िता शोषित...

मंगतराम शास्त्री – अन्नदाता सुण मेरी बात

रागनी अन्ऩदाता सुण मेरी बात तूं हांग्गा ला कै दे रुक्का। सारे जग का पेट भरै तूं फेर भी क्यूं रहज्या भुक्खा।। माट्टी गेल्यां माट्टी हो तेरा...

महेन्द्र सिंह ‘फकीर’-एक अरज सुण तूं भाभी,

रागनी एक अरज सुण तूं भाभी, घर मेरा भी बसवा दे, होगा बड़ा भला तेरा, ब्याह मेरा भी करवा दे। एक सूंट तेरा सिमा दूंगा, घर म्हं...

विक्रम राही – बाॅडी साॅडी बणा लई तनै यो किसा ढिठोरा सै

बाॅडी साॅडी बणा लई तनै यो किसा ढिठोरा सै असल बात तै लाख दूर किस ढाल का छोरा सै जोंगा जीप ट्रैक्टर डीजे बणा लिया तमनै बेहुदा...

विक्रम राही – कुर्सी के रोले नै देखो किस ढाल का काम करया

रागनी कुर्सी के रोले नै देखो किस ढाल का काम करया माणस माणस भिडा दिए कैसा यो इंतजाम करया भाई नै भाई की चाहन्ना यो धर्म कड़े...

डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल – हरियाणा में रागनी की परम्परा और जनवादी रागनी की शुरुआत

आलेख हरियाणा में आम जनता तक पहुंचने के लिए रागनी एक कारगर माध्यम दिखाई देती है। क्योंकि पिछले पचास-साठ सालों के दौरान कुछ प्रमुख लोक-प्रतिभाओं...

अरुण कुमार कैहरबा – हरियाणा का हाल

हरियाणवी गीत हरि के हरियाले प्रदेश हरियाणा का हाल सुणो, खरी-खरी कड़वी-सी बात और चुभते हुए सवाल सुणो। दूध-दही के खाणे वाला मीठा-मीठा गीत कहां सै, मिल-बैठ कै,...

मंगत राम शास्त्री- बाबत हरियाणा

रागनी बाबत हरियाणा   देशां में सुण्या देश अनोखा वीर देश हरियाणा है। मैं टोहूं वो हरियाणा जित दूध-दही का खाणा है।। था हरियाणा हिन्दू-मुस्लिम मेलजोल की कहाणी का पीर-फकीरों...

रोशन वर्मा – नई रागनी के शिखर पुरुष पं. जगन्नाथ से संवाद

संवाद नई रागनी के शिखर पुरुष पं. जगन्नाथ हमारे बीच नहीं रहे। देस हरियाणा की ओर से कलाकार को विनम्र श्रद्धांजलि। रचनाकार के स्वयं के...