placeholder

विचार आते हैं -मुक्तिबोध

Post Views: 307 कविता विचार आते हैं विचार आते हैं-लिखते समय नहीं,बोझ ढोते वक्त पीठ परसिर पर उठाते समय भारपरिश्रम करते समयचांद उगता है वपानी मेें झलमलाने लगता हैहृदय के…