Tag Archives: media

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ तेज हो रहा है आदिवासियों का आंदोलन

आदिवासियों की हुंकार गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 13 फरवरी को वाईल्ड लाई फ्रस्ट और वन विभाग के कुछ आला रिटायर अधिकारियों की याचिका पर सुनाई करते हुए देश के 20 लाख से अधिक आदिवासियों को उनकी जमीनों से बेदखल कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि जिन लोगों को वन अधिकार कानून 2006 के तहत दावे

Read more

भारतीय सेना का पाक-अधिकृत कश्मीर पर हमला

भारतीय वायु सेना ने पाक-अधिकृत कश्मीर के कस्बे बालकोट में सुबह 3.30 मिनट पर हमला किया है। इस हमले के लिए 12 लाड़कू विमानों ने सुबह 3 बजे अंबाला से उड़ान भरी थी। विदेश सचिव ने संवादाताओं को जानकारी देते हुए बताया विश्वसनीय खुफिया जानकारी मिली थी कि 12 दिन पहले पुलवामा हमले को अंजाम देने के बाद जैश ए

Read more

हिमाचल प्रदेश – वन अधिकार कानून का महत्व

सुप्रीम कोर्ट में 13 जनवरी को वाइल्ड लाइफ फ्रस्ट व रिटायर वन अधिकारियों द्वारा दायर की गई याचिका पर सुनाई ने देश के 20 लाख से ज्यादा आदिवासियों पर विस्थापन की तलवार लटका दी है। इस से हिमाचल प्रदेश भी अछूता नहीं रहने वाला।

Read more

सनक में तब्दील होती सेल्फी और वीडियो बनाने की भेड़चाल

अनिल पाण्डेय (लेखक माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय से प्रसारण पत्रकारिता में स्नातकोत्तर हैं। लेखक पूर्व में प्रतिष्ठित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवम् संचार विश्वविद्यालय के मीडिया प्रबंधन विभाग सहित इलेक्ट्रानिक मीडिया विभाग में बतौर सहायक प्राध्यापक (अतिथि) अध्यापन कार्य कर चुके हैं। लेखक संप्रति कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से संबद्ध राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, सेक्टर-1, पंचकूला, हरियाणा में बतौर सहायक

Read more

 डॉ. गुरमीत सिंह – मीडिया और खाप पंचायते

जहां तक ऑनर किलिंग की घटनाओं की रिपोर्टिंग का प्रश्न है तो सभी समाचार पत्रों, चैनलो व बाकी माध्यमों ने इस नृशंस अपराध को पर्याप्त संवेदना के साथ रिपोर्ट किया है। हालांकि मीडिया द्वारा बार बार प्रयुक्त किए जा रहे ऑनर किलिंग शब्द के प्रयोग से कहीं न कहीं अपराधियों के महिमामंडन का संदेश भी जाता है। हत्या के साथ

Read more

मैं मार्क्सिस्ट विचार को मानता हूं, लेकिन इससे मैं नक्सली नहीं हो जाता : तेलतुंबड़े

https://khabar.ndtv.com/news/india/i-believe-in-the-marxist-idea-but-this-does-not-make-me-naxal-teltumbde-1908325?type=news&id=1908325&category=india मुंबई: मानवाधिकार कार्यकर्ता आनंद तेलतुंबड़े ने कहा है कि ‘जो येसरकार कर रही है वह डरावना है. मैं बचपन से एक्टिविस्ट हूं. पहले की सरकारों के खिलाफ भी लिखता रहा हूं. मैं मार्क्सिस्ट विचार को मानता हूं लेकिन इससे मैं नक्सली नहीं हो जाता हूं. भारत गुलामी से भी बदतर हो गया है.’ आनंद तेलतुंबड़े गोवा में बिग डेटा एनालिसिस में सीनियर प्रोफेसर

Read more

हरियाणा में सांग परम्परा – सपना रानी

आलेख हरियाणा में लोक मंच को ‘सांग’ के नाम से जाना जाता है। ‘सांग’ शब्द,  स्वांग शब्द से बना है जो नाट्य शास्त्र के ‘रूपक’ शब्द का पर्याय है।  सांग हरियाणा की संस्कृति के जीवन का दर्पण है यहां के निवासियों के सामाजिक और नैतिक मूल्य, लोक जीवन से जुड़ी वीरता और प्रेम की कहानियां, खेत-खलिहान, दान-पुण्य और  अतिथि सत्कार

Read more
« Older Entries