placeholder

बाबा फरीद और हमारा समाज- सुमेल सिंह सिद्धू

सत्यशोधक फाउंडेशन व देस हरियाणा पत्रिका द्वारा आयोजित हरियाणा सृजन यात्रा के दौरान हांसी स्थित चार कुतुब में आयोजित सेमिनार में पंजाबी व सूफी साहित्य के जाने-माने विद्वान डॉ. सुमेल सिंह सिद्धू ने बाबा फरीद और हमारा समाज विषय पर व्याख्यान दिया। सेमिनार का संचालन करते हुए देस हरियाणा के संपादक डॉ. सुभाष चन्द्र ने कहा कि आज जान लेने वाले सड़क पर हैं, लेकिन देने वाले नहीं हैं। संतों-भक्तों व मध्यकाल के महापुरूषों के विचारों को खंगालने की जरूरत है, जोकि हमारी विरासत है। इस व्याख्यान की प्रस्तुति देस हरियाणा के सह-संपादक अरुण कुमार कैहरबा ने की है

placeholder

हरियाणा का इतिहास-अल्पतंत्रीय वर्ग का उत्थान – बुद्ध प्रकाश

Post Views: 288 बुद्ध प्रकाश यौधेयों ने, जिनके विषय में पहले उल्लेख किया जा चुका है, ई, पू.  की प्रथम तथा द्वितीय शताब्दी के उत्तरार्ध में अपनी मुद्रा चला कर…

placeholder

हरियाणा का इतिहास-सिक्खों का शासन तथा यूरोप के लोगों का हस्तक्षेप – बुद्ध प्रकाश

Post Views: 408 बुद्ध प्रकाश 14 जनवरी, 1764 में सिक्खों ने सरहिन्द के अफगान राज्यपाल जैन खां को पराजित किया तथा पूर्वी पंजाब और हरियाणा में अफगान शासन समाप्त कर…

placeholder

हरियाणा का इतिहास-ब्रिटिश शासन की स्थापना -बुद्ध प्रकाश

Post Views: 329 30 दिसम्बर, 1803 को दौलत राव सिन्धिया ने सिरजी अंजनगांव की सन्धि द्वारा हरियाणा  प्रदेश ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कम्पनी को सौंप दिया। प्रशासन के लिए रेजिडेंट नियुक्त…

placeholder

हांसी से बही सूफी विचारधारा

Post Views: 735 हांसी से बही सूफी विचारधारा स्वामी वाहिद काज़मी हांसी में स्थित दरगाह चहार कुतब। प्रख्यात चार सूफी संतों का मकबरा ।  ‘कुतब’ शब्द  आदर्श  व्यक्ति प्रयोग होता…