Tag: हरियाणा पंजाबी कवि

तुम कबीर न बनना- हरभजन सिंंह रेणु

Post Views: 646     कविता जब मेरे दोस्त मुझे कबीर बना रहे थे मैं प्यादों की ताकत से ऊंटों की शह मात बचा रहा था घोड़े दौड़ा रहा था

Continue readingतुम कबीर न बनना- हरभजन सिंंह रेणु

सीढ़ी -हरभजन सिंंह रेणु

Post Views: 544 कविता मनुष्य जीवनभर तलाशता है सीढ़ी ताकि छू सके कोई ऊंची चोटी एक ऊंचाई के बाद तलाशता है दूसरी सीढ़ी औ’ हर ऊंचाई के बाद नकारता है

Continue readingसीढ़ी -हरभजन सिंंह रेणु