Tag: हरियाणा की हिन्दी कविता

भगत सिंह की कुरबानी पर आल्हा गाने निकला हूँ – शैलेन्द्र सिंह

Post Views: 85 भगत सिंह की कुरबानी पर आल्हा गाने निकला हूँ,आज़ादी के दर्पण की मैं धूल हटाने निकला हूँ।शत-शत कोटिक नमन लेखनी भगत सिंह की करनी को,ऐसा बालक जनने

Continue readingभगत सिंह की कुरबानी पर आल्हा गाने निकला हूँ – शैलेन्द्र सिंह