Tag: साहित्यालोचन

बाबू श्यामसुन्दर दास : हिन्दी साहित्य के पहले सुयोग्य प्रबंधक – डॉ. अमरनाथ

“हिंदी के आलोचक” शृंखला में कलकत्ता विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर और हिन्दी विभागाध्यक्ष डा. अमरनाथ ने 50 से अधिक हिंदी-आलोचकों के अवदान को रेखांकित करते हुए उनकी आलोचना दृष्टि के विशिष्ट बिंदुओं को उद्घाटित किया है। इन आलोचकों पर यह अद्भुत सामग्री यहां प्रस्तुत है। इस शृंखला को आप यहां पढ़ सकते हैं। … Continue readingबाबू श्यामसुन्दर दास : हिन्दी साहित्य के पहले सुयोग्य प्रबंधक – डॉ. अमरनाथ