Tag: सांझी संस्कृति

महात्मा गांधी के विचार

Post Views: 1,266 गांधी के विचार ‘गांधी का भारत : भिन्नता में एकता’  नामक पुस्तक से जिसका अनुवाद किया है सुमंगल प्रकाश ने। 1.  ‘हिंद स्वराज’ से,    2. लाहौर

Continue readingमहात्मा गांधी के विचार

मैं हिन्दू भी हूं और मुसलमान भी

Post Views: 312 विनोबा भावे रामकृष्ण परमहंस ने इस्लाम, ईसाई आदि अन्य धर्मों की उपासना की थी, उनकी प्रत्यक्ष अनुभूति प्राप्त करने के लिए साधना की थी और सब धर्मों

Continue readingमैं हिन्दू भी हूं और मुसलमान भी

 गुरुनानक और सांझी संस्कृति की विरासत – डा. सुभाष चंद्र

Post Views: 921 सुभाष चन्द्र   बाबा नानक शाह फकीर हिन्दू का गुरु, मुसलमान का पीर 1 गुरु नानक का जन्म 1469 में, पंजाब प्रान्त के ननकाना साहब नामक स्थान पर हुआ,

Continue reading गुरुनानक और सांझी संस्कृति की विरासत – डा. सुभाष चंद्र

दाराशिकोह और उनका समुद्र संगम -राधावल्लभ त्रिपाठी

Post Views: 1,249 राधावल्लभ त्रिपाठी बादशाह शाहजहां के चार बेटों में दाराशिकोह सबसे बड़े थे। वे शाहजहां के सबसे छोटे बेटे औरंगजेब के द्वारा मारे गए। अगर औरंगजेब की जगह

Continue readingदाराशिकोह और उनका समुद्र संगम -राधावल्लभ त्रिपाठी

गुरु नानक की दरियादिली -देवेंद्र सत्यार्थी

Post Views: 754 देवेन्द्र सत्यार्थी    नीची अन्दर नीच जाति नीची हूं अति नीचु । नानकु तिनके संगि साथि वडिया सिउ किया रीस। जिथै नीच समाली अनि तिथै नदरि तेरी

Continue readingगुरु नानक की दरियादिली -देवेंद्र सत्यार्थी

दो मुंह वाला देवता

Post Views: 372 अमृत लाल मदान                 मामी जी को दो दिनों के लिए तावडू वापिस जाना पड़ा, जहां जाकर उन्हें अपने और मामा जी के मैले कपड़े धोने थे,

Continue readingदो मुंह वाला देवता

चौपाये अतीत – अमृत लाल मदान

Post Views: 134 कविता चौपाये अतीत प्रतिबद्ध हैं वे कटिबद्ध हैं वे वर्तमान व भविष्य को स्वर्णिम अतीत की ओर धकेलने को चलो धकेलो-पेलो धकेलते चलो पेलते चलो राज पथ

Continue readingचौपाये अतीत – अमृत लाल मदान

हांसी से बही सूफी विचारधारा

Post Views: 748 हांसी से बही सूफी विचारधारा स्वामी वाहिद काज़मी हांसी में स्थित दरगाह चहार कुतब। प्रख्यात चार सूफी संतों का मकबरा ।  ‘कुतब’ शब्द  आदर्श  व्यक्ति प्रयोग होता

Continue readingहांसी से बही सूफी विचारधारा