Tag: सदानंद साही

मातृभाषाओं को बचाने की जरूरत – सदानंद साही

Post Views: 757 समय आ गया है कि हम भाषा के सवाल को गंभीरता से लें। भाषा मनुष्य होने की शर्त है। इसे सिर्फ अभिव्यक्ति, संपन्न और दरिद्र जैसे पैमाने

Continue readingमातृभाषाओं को बचाने की जरूरत – सदानंद साही