Tag: वासुदेव शरण अग्रवाल

राष्ट्र का स्वरूप – वासुदेव शरण अग्रवाल

Post Views: 2,302 भूमि, भूमि पर बसने वाला जन और जन की संस्कृति इन तीनों के सम्मिलन से राष्ट्र का स्वरूप बनता है। भूमि का निर्माण देवों ने किया है,

Continue readingराष्ट्र का स्वरूप – वासुदेव शरण अग्रवाल