Tag: राम की शक्ति पूजा

राम की शक्ति पूजा – सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’

Post Views: 207 कविता रवि हुआ अस्त; ज्योति के पत्र पर लिखा अमररह गया राम-रावण का अपराजेय समरआज का तीक्ष्ण शर-विधृत-क्षिप्रकर, वेग-प्रखर,शतशेलसम्वरणशील, नील नभगर्ज्जित-स्वर,प्रतिपल – परिवर्तित – व्यूह – भेद

Continue readingराम की शक्ति पूजा – सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’