Tag: यार छोड़ तकरार की बातां

यार छोड़ तकरार की बातां – कर्मचंद केसर

Post Views: 554  हरियाणवी गजल यार छोड़ तकरार की बातां। आजा कर ले प्यार की बातां। एक सुपना-सा बणकै रह्गी, आपस के इतबार की बातां। आजादी म्हं भी जस की

Continue readingयार छोड़ तकरार की बातां – कर्मचंद केसर