Tag: मुस्लिम अलगाववाद और नारी प्रश्र : संदर्भ ‘झूठा सच’;  ‘विभाजन

हाशिये के लोगों की औपन्यासिकता का विमर्श – डा. सुभाष चंद्र

Post Views: 521 प्रोफेसर सुभाष चन्द्र  वीरेन्द्र यादव रचित  ‘उपन्यास और वर्चस्व की सत्ता’ पुस्तक हिन्दी आलोचना और विशेषकर उपन्यास आलोचना के लिए महत्त्वपूर्ण है। आधुनिक काल के अन्तर्द्वन्द्वों  को

Continue readingहाशिये के लोगों की औपन्यासिकता का विमर्श – डा. सुभाष चंद्र