Tag: बलबीर राठी

कत़आत़ – बलबीर राठी

Post Views: 328  हर क़दम पर टूटते जाते हैं लोग,जि़न्दगी से ठीक घबराते हैं लोग,कैसे पहचाने किसी के दर्द को,अपने-अपने ज़ख़्म सहलाते हैं लोग।*** क्या उजालों की अब तलाश करें,घुप्प

Continue readingकत़आत़ – बलबीर राठी