Tag: नाक नहीं कटती

नाक नहीं कटती -मदन भारती

Post Views: 564 कविता बस्तियां जलातें हैं घर में कुकृत्य कर लेते हैं देवर का हक चलता है, जेठ तकता है, ससुर रौंदता है, बस्ती से लड़कियां उठा लेते हैं

Continue readingनाक नहीं कटती -मदन भारती