Tag: जनवादी कविता

जनवादी कविता की विरासत-डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल

Post Views: 2,442 हिन्दी में आठवें दशक के दौरान जनवादी कविता का स्वर ही प्रमुख रहा है, कई नए हस्ताक्षर इधर जनवादी कविता के क्षेत्र में उभर कर आए हैं,

Continue readingजनवादी कविता की विरासत-डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल

कविता की भाषा और जनभाषा – डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल

Post Views: 249 आलेख कविता की भाषा का जन-भाषा से किस प्रकार का सम्बन्ध हो इस प्रश्न पर हम यहां केवल जनवादी कविता के संदर्भ में ही विचार करेंगे। कविता

Continue readingकविता की भाषा और जनभाषा – डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल