Tag: किसानी जीवन का ऋण

किसानी जीवन का ऋण – अमृत लाल मदान

Post Views: 155 अमृतलाल मदान अधखुली नींद में अधखुली खिड़की से दिखने लगा था धीरे धीरे सरकता पूरा खिला चांद लुक्का-छिप्पी खेलता छोटी-छोटी बदलियों के संग आधी रात के आकाश

Continue readingकिसानी जीवन का ऋण – अमृत लाल मदान