Tag: कभी सोचा है

ओम प्रकाश वाल्मीकि की आत्मकथा पढ़ते हुए मैं बेहद पिघल गया था – ओमसिंह अशफाक

Post Views: 663 ओमसिंह अशफाक ओम प्रकाश वाल्मीकि (30-6-1950—18-11-2013) जी से मेरी मुलाकात सिर्फ तीन बार हुई, लेकिन फोन पर चार-पांच बार की बातचीत ने हमारे बीच काफी आत्मीयता पैदा

Continue readingओम प्रकाश वाल्मीकि की आत्मकथा पढ़ते हुए मैं बेहद पिघल गया था – ओमसिंह अशफाक