Tag Archives: अविनाश सैनी

जींद विधानसभा उपचुनाव की बिसात

अविनाश सैनी   जींद उपचुनाव का राजनीतिक महत्व यह है कि यह लोकसभा चुनावों की टोन सेट करेगा।  सत्ताधारी पार्टी तो इनेलो-जजपा के आपसी प्रतिद्वंद्व और कांग्रेस की आपसी फूट पर ही अपने जीत को सुनिश्चित मान रही है। उसे अपने कार्यों की अपेक्षा विरोधी दलों की फूट पर अधिक भरोसा है उसके सहारे ही राजनीतिक वैतरणी पार करना चाहती

Read more

राजनीतिक दलों के आंतरिक घमासान की जड़ है – सत्ता की बंदरबांट

अविनाश सैनी नगर निगम चुनावों में मिली जीत की खुमारी अभी उतरी भी न थी कि विधायकों के असंतोष ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की खुशियों को हवा कर दिया। विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता सरकार में काम न होने या खुद की उपेक्षा का रोना अकसर बड़े नेताओं के समक्ष रोते रहते हैं। भाजपा सरकार में भी अनेक बार

Read more

नगर निगम चुनावों के सबक

अविनाश सैनी सारे पूर्वानुमानों को धत्ता बताते हुए भाजपा ने हरियाणा के 5 नगर निगमों के लिए हुए चुनावों में बड़ी जीत दर्ज की है। हिसार, यमुनानगर, करनाल, पानीपत और रोहतक  नगर निगमों के इन चुनावों में भाजपा ने मेयर के पांचों पद अपने नाम कर राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में हुई पार्टी की हार का अपने कैडर

Read more

हरियाणा के खिलाड़ी छाए

अविनाश सैनी  एशियाई खेलों में भारत ने जीते रिकॉर्ड पदक हरियाणा के खिलाड़ी छाए ( खेल के क्षेत्र में हरियाणा नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है, जो खिलाड़ियों की जी तोड़ मेहनत और लगन और निरंतर अभ्यास का नतीजा है। बेहतर प्रदर्शन व मेडल प्राप्त करने के लिए खिलाड़ियों को ‘देस हरियाणा’ पत्रिका की ओर से बधाई। प्रस्तुत है एशियाई

Read more

बात की बात

अविनाश सैनी  1. आधुनिकता की दौड़ में खुद को, आगे कहते आज पर पिछड़ेपन को ढ़ो रहा, अपना यह समाज अपना यह समाज, जात और गौत पे मरता इंसानी मूल्यों की न कुछ परवाह करता औरत, दलित, कमजोर का, यहां रहा न कोई मान, डर कर नई सोच से ले रहे, अपने बच्चों की जान। 2. हरियाणा में युवाओं का

Read more

अविनाश सैनी – प्रो. ओम प्रकाश ग्रेवाल की याद में

कविता बुझ गया दीपक मगर, शम्मा कई जला गया एक शख़्श जिन्दगी का रास्ता दिखा गया॥ बाँटने वो बढ़ गया, दुख दर्द को देखा जहाँ इन्सानियत का पाठ यूँ अवाम को पढ़ा गया। चेतना विकसित हुए बिन, बेहतरी मुमकिन नहीं, जिन्दगी का सच ये खास-ओ-आम को समझा गया। शोषितों को एक जुट कर, हौंसला देता रहा, यूँ बिगुल समाज में,

Read more

आबिद आलमी यादगार मुशायरा – अविनाश सैनी

सांस्कृतिक हलचल ‘आबिद आलमी’ (‘आबिद’ यानी तपस्वी, और ‘आलमी’ यानी इस दुनिया का), अपना यह तख़ल्लुस यानी कवि-नाम रखा था अपने वक़्त के जाने-माने शिक्षक और हरियाणा में शिक्षक-आंदोलनों के पहली पंक्ति के सिपाही जनाब राम नाथ चसवाल ने। इसी नाम से वे शायरी किया करते थे और इसी शायर की याद में सातवाँ’आबिद आलमी यादगार मुशायरा’ 19 जून 2016

Read more