placeholder

एक घी का पीपा दे द्यांगे

Post Views: 201 एक बै एक जणा छोरी का रिश्ता खात्तर छोरा टोहंदा फिरै था। रिश्तेदारी में एक नै छोरा बता दिया। जिस छोरे खात्तर वोगया था, वे देही का…

placeholder

हम पढऩे-लिखने वालों की तो बात ही कुछ ओर है

Post Views: 242 तीन चूहे बड़े जिगरी यार थे। घणे दिनां में फेट्टे तो उनमें एक जुणसा मरियल था-न्यूं बोल्या अक् रै कड़ै रह्या करो-वे दोनों मोटे ताजे थे। उनमैै…

placeholder

महादे-पारवती

Post Views: 299 लोक कथा एक बर की बात सै। पारबती महादे तैं बोल्ली – महाराज, धरती पै लोग्गाँ का क्यूकर गुजारा हो रह्या सै? मनै दिखा कै ल्याओ। महादे…

placeholder

कौआ और चिड़िया

Post Views: 1,104 लोक कथा                 एक चिड़िया थी अर एक था कौआ। वै दोनों प्यार प्रेम तै रह्या करै थे। एक दिन कौआ चिड़िया तै कहण लाग्या अक् चिड़िया…

placeholder

झोटा अर शेर

Post Views: 970 लोक कथा एक आदमी कैदो मैंस थी। उसका छोरा उननै चराण जाया करदा। दोनू मैंस ब्यागी। एक नै दिया काटड़ा अर दूसरी नै दी काटड़ी। वो काटड़ा…