Category Archives: मीडिया

ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन

विकास साल्याण  (देस हरियाणा फ़िल्म सोसाइटी के तत्वावधान में डा. ओमप्रकाश ग्रेवाल अध्ययन संस्थान, कुरुक्षेत्र में 2 सितंबर 2018 को पर्यावरण संकट पर केन्द्रित फ़िल्म ‘कार्बन’ की प्रस्तुति की गई, जिसमें विभिन्न विद्वानों, बुद्धिजीवियों व नागरिकों ने फ़िल्म पर चर्चा में हिस्सा लिया। फिल्म में मुख्य भूमिका में यशपाल शर्मा, जैकी भगनानी,नवाजुद्दीन सिद्दिकी, प्राची देसाई हैं । इस संवेदनशील फ़िल्म

Read more

डॉ. देवव्रत सिंह – मीडिया, छवियां और गोत्र विवाद

हरियाणा के लोगों को एक बात का अहसास तो हो चुका है कि मीडिया द्वारा दिखाये जाने के बाद उनकी छवि को बट्टा लग चुका है। अधिकांश हरियाणवी इस दर्द को भलीभांति अनुभव कर रहे हैं कि किस प्रकार पूरा देश उनको लानत दे रहे हैं। इस दर्द की अभिव्यक्ति दो प्रकार से होती है। पहली, खाप पंचायतों में अब

Read more

 डॉ. गुरमीत सिंह – मीडिया और खाप पंचायते

जहां तक ऑनर किलिंग की घटनाओं की रिपोर्टिंग का प्रश्न है तो सभी समाचार पत्रों, चैनलो व बाकी माध्यमों ने इस नृशंस अपराध को पर्याप्त संवेदना के साथ रिपोर्ट किया है। हालांकि मीडिया द्वारा बार बार प्रयुक्त किए जा रहे ऑनर किलिंग शब्द के प्रयोग से कहीं न कहीं अपराधियों के महिमामंडन का संदेश भी जाता है। हत्या के साथ

Read more

सुर्खियां: आपातकाल आज से कम ख़तरनाक था – रोमिला थापर

bbchindi.com से… पांच मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारी पर सवाल उठाते हुए सुप्रीम कोर्ट में जिन पांच लोगों ने याचिका दाख़िल की थी, उनमें इतिहासकार रोमिला थापर भी शामिल हैं. बीबीसी संवाददाता विनीत खरे से बातचीत में रोमिला थापर ने कहा कि देश में पिछले चार सालों में डर और भय का माहौल बढ़ा है और ये माहौल आपातकाल की तुलना में

Read more

इस राजनीतिक लड़ाई में मैं हर कीमत चुकाने को तैयार हूं : गौतम नवलखा

गिरफ्तारी के बाद प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा का बयान यह समूचा केस इस कायर और प्रतिशोधी सरकार द्वारा राजनीतिक असहमति के खिलाफ़ की गई राजनीतिक साजिश है जो भीमा कोरेगांव के असली दोषियों को बचाने के लिए जी जान लगा रही है और इस तरह से उसने अपने उन घोटालों और नाकामियों की ओर से ध्‍यान बंटाने का काम

Read more
« Older Entries