Category: पुस्तक

स्वतंत्रता आंदोलन की चेतना से सराबोर बाल उपन्यासिका – अरुण कैहरबा

Post Views: 39 पुस्तक समीक्षापुस्तक : जीतेंगे हमलेखक : साबिर हुसैनप्रकाशक : राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारतपृष्ठ-56मूल्य : रु. 90. स्वतंत्रता आंदोलन की चेतना से सराबोर बाल उपन्यासिकाकिताब पाठकों में पैदा कर

Continue readingस्वतंत्रता आंदोलन की चेतना से सराबोर बाल उपन्यासिका – अरुण कैहरबा

आत्मकथाओं के जरिये साहित्यकारों के जीवन में झांकती किताब – अरुण कैहरबा

Post Views: 33 पुस्तक समीक्षापुस्तक : आत्मकथाएं: साहित्यिक परिवेशकवि : डॉ. सुरेन्द्र कुमारप्रकाशक : कलमकार पब्लिशर्स, नई दिल्लीपृष्ठ-182मूल्य : रु. 300. हरियाणा विद्यालय शिक्षा विभाग में हिन्दी प्राध्यापक डॉ. सुरेन्द्र

Continue readingआत्मकथाओं के जरिये साहित्यकारों के जीवन में झांकती किताब – अरुण कैहरबा

हाल फिलहाल पढ़ी गई पुस्तकों से गुजरते हुए- गौरव

Post Views: 78 सामान्य पाठक के तौर पर जब मुझे पुस्तकें पढ़ने का शौक हुआ तो मुझे अलग- अलग तरह की बैचेनी पैदा हुई जिन्होंने मेरे दिमाग में उथल- पुथल

Continue readingहाल फिलहाल पढ़ी गई पुस्तकों से गुजरते हुए- गौरव

मलबे के नीचे दबा विकारग्रस्त समाज – अरुण कैहरबा

Post Views: 104 प्रख्यात सर्जन, प्रोफेसर, सामाजिक कार्यकर्ता और लेखक डॉ. रणबीर सिंह दहिया का उपन्यास मलबे के नीचे हरियाणा की सामाजिक व्यवस्था की सर्जरी करने का सफल प्रयास है।

Continue readingमलबे के नीचे दबा विकारग्रस्त समाज – अरुण कैहरबा

शिक्षा व्यवस्था की हकीकत को बपर्दा करती प्रोफ़ेसर की डायरी – रानी वत्स

Post Views: 47 डॉ. लक्ष्मण यादव द्वारा लिखित पुस्तक ‘ प्रोफेसर की डायरी’ शिक्षा व्यवस्था व एडहॉक की नौकरी की व्यवस्था को समझने में बहुत मदद करती है । यह

Continue readingशिक्षा व्यवस्था की हकीकत को बपर्दा करती प्रोफ़ेसर की डायरी – रानी वत्स

तानाशाही मानसिकता को बेपर्दा करता उपन्यास ‘गोरी हिरनी’

Post Views: 55 लेखकः गुलजार सिंह संधुहिंदी अनुवादकः गुरबख्श मोंगा और वंदना सुखीजाप्रकाशकः गार्गीपृष्ठः 134मूल्यः रू. 120 यह बेहद उत्सुकता की बात हो सकती है कि कोई तानाशाह किस प्रकार

Continue readingतानाशाही मानसिकता को बेपर्दा करता उपन्यास ‘गोरी हिरनी’

मनुष्यत्व की कवायद करती सपना भट्ट की कविताएँ – योगेश

Post Views: 218 सारी नदियाँ अगर हैं मीठी तो समंदर कहाँ से लाता है अपना नमक? -पाब्लो नेरुदा सपना भट्ट की कविता पहाड़ के भाषागत स्पंदन से लबरेज है। “भाषा

Continue readingमनुष्यत्व की कवायद करती सपना भट्ट की कविताएँ – योगेश

आधी दुनिया के लिए पूरे आसमान का संघर्ष करता उपन्यास – अरुण कुमार कैहरबा

Post Views: 48 विभिन्न क्षेत्रों में लड़कियों की उपलब्धियों और महिला सशक्तिकरण के नारों के बीच हरियाणा का समाज पितृसत्तात्मकता और महिला-पुरूष गैर बराबरी से बुरी तरह त्रस्त है। यहां

Continue readingआधी दुनिया के लिए पूरे आसमान का संघर्ष करता उपन्यास – अरुण कुमार कैहरबा

युथ फॉर हिमालय 2024 में ‘भाखा बहता नीर’ का विमोचन

Post Views: 50 कांगड़ा समस्त हिमालयी राज्यों के पर्यावरणवादी समूह यूथ फॉर हिमालय की संभावना संस्थान पालमपुर में आयोजित एक कार्यशाला में हिमाचल प्रदेश आधारित लेखक गगनदीप सिंह की पुस्तक

Continue readingयुथ फॉर हिमालय 2024 में ‘भाखा बहता नीर’ का विमोचन

पिता-पुत्री के रिश्ते को चित्रित करता उपन्यास “रूदादे-सफ़र” –  डॉ. सुधा ओम ढींगरा

Post Views: 16 पंकज सुबीर एक ग़ज़लकार, संपादक, कथाकार और उपन्यासकार हैं। कई कहानियों के साथ-साथ पहले तीन उपन्यास ‘ये वो सहर तो नहीं’, ‘अकाल में उत्सव’ और ‘जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़

Continue readingपिता-पुत्री के रिश्ते को चित्रित करता उपन्यास “रूदादे-सफ़र” –  डॉ. सुधा ओम ढींगरा