वेरी गुड

 
एक अणपढ़ माणस नै अंग्रेजी सीखण का शौंक होग्या। सिखाण आला मास्टर भी भागां करकै ए मिलग्या। एक हफ्ते में तीन शब्द सिखाए-‘यश, नो, वैरी गुड’। अनपढ़ नै तो तीनों रट लिए। इसे बीच में एक दिन गाम में चोरी हो ग्यी। पुलिस चोरां नै टोह्वण लागर्यी थी अक् राह में वो ए माणस टकराग्या। पुलिसियां नै पूच्छ्या भाई तनै कोए चोर भाज दा देख्या। जवाब मिल्या-‘यश’। बता फेर कड़ै सै? मुंह तै लिकडय़ा-‘नो’। पुलिस आले कहण लागे-तनै थाणे में ले ज्यांगे अर् तेरी खूब पिटाई कर द्यांगे। अणपढ़ नै जवाब दिया-‘वेरी गुड’।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *