क्या कर लिया हमने ?

सुभाष चन्द्र
सदियों से हमें गांवों में
मंदिरों में, स्कूलों में
कहीं घुसने नही दिया गया
क्या कर लिया हमने ?
शम्बुक की हत्या की गयी
एकलव्य का अंगूठा लिया गया
हम से हमारा ही दिमाग छीन लिया
क्या कर लिया हमने ?
बर्बाद कर दिया कमेरे वर्ग को
नष्ट कर दी कारीगरी हमारी
खेतों में, कारखानों में हम गुलाम हुए
क्या कर लिया हमने ?
आज बाबा साहेब के संघर्षों से
हम स्कूल, कालेज से लेकर
विधान सभा, संसद में पहुँच गये, मगर
क्या कर लिया हमने ?
देखते ही देखते, हमारे
आरक्षण पाए लोगों को
तोता बना दिया गया या गूंगा
क्या कर लिया हमने ?
मानवता की मुक्ति लिखने वाले
कलम से इन्कलाब लाने वाले
गोलियों का शिकार हुए या जेल में बंद
क्या कर लिया हमने ?
कभी शहरी नक्सली कहकर
कही जातीय माओवादी कहकर
कभी अम्बेडकरवादी कहकर
सांस्कृतिक आंतकवाद में फंसाया गया
क्या कर लिया हमने ?
संपर्क-
वरिष्ठ तकनिकी सहायक
चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय, सिरसा (हरियाणा)
9416138995

1 thought on “क्या कर लिया हमने ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *