ल्युइस कैरोल (1832-1898) अनुवाद दिनेश दधीचि 

कैसे नन्हा मगरमच्छ

कैसे नन्हा मगरमच्छ
अपनी चमकीली दुम संवारता है।
अपने हर सुनहरे शल्क के ऊपर नील नदी का पानी डालता है।

देखो, कैसे खीसें निपोरता है अपनी,
कैसे सफ़ाई से पंजे फैलाता है।
फिर शरीफ़ बना अपने जबड़ों से वह
करता है
छोटी छोटी मछलियों का मुस्कान भरा स्वागत भी!

 

Lewis Carroll (1832-1898)

How doth the li’l crocodile

How doth the li’l crocodile
Improve his shining tail,
And pour the waters of the Nile
On every golden scale!

How cheerfully he seems to grin
How neatly spreads his claws,
And welcomes little fishes in,
With gently smiling jaws!

 

 

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.