शहीद उधम सिंह पर 30 अगस्त 1927 को सिटीअमृतसर में दर्ज एफ.आई.आर.

1

उधम सिंह की गिरफ्तारी 30 अगस्त 1927 को सिटी कोतवाली अमृतसर में दर्ज एफ.आई.आर. 327/139 की प्रति

नंबर 5-24 (1)

एफ.आई.आर.

फौजदारी अपराध के संबंध में एक्ट 46 तहत पुलिस रिपोर्ट

पुलिस स्टेशन (कोतवाली)  327/139 जिला अमृतसर

घटना की तारीख – 30.08.1927, समय सांय 7 बजे

  1. रिपोर्ट मिलने की तारीख – 30.08.1927, समय 10 बजे शाम
  2. रिपोर्ट करने वाले व्यक्ति का नाम – मुराद अली खान
  3. अपराध की किस्म – आर्मज एक्ट 11.78 धारा 20 के तहत
  4. घटना स्थल और पुलिस स्टेशन के बीच दूरी – चौंक बिजली वाला लैंप   दौरान (सैक्शन 31)  से दक्षिण-पूर्व की ओर लगभग 200 फुट
  5. अपराधी का नाम व पता…………
  6. त$फतीसी रिपोर्ट-विस्तार सहित रिपोर्ट संलग्न
  7. तारीख व समय पुलिस थाने से रवानगी का 31.08.27 सुबह 8 बजे

(दस्तखत)
सरवर अली (सब इंस्पैक्टर)

                प्रथम सूचना यहां दर्ज करो।
सूचना लिखने वाले व्यक्ति के मोहर सहित दस्तखत हों और इनको तस्दीक किया जाए।

                आज  डायरी नंबर 16, तारीख 30.08.27, सांय 7 बजे एक गुप्त सूचना मिली कि बाजार कटड़ा शेर सिंह मैडम नूर जान खान की रिहायश पर एक बदमाश व्यक्ति आया हुआ है जोकि देखने में विदेश का लगता है उसकी त$फतीश की जाए। इस काम  के लिए एक छापामार दस्ता तैयार किया। 547 मिहर सिंह नंबर, 590 दीन मुहम्मद, 593 चौधरी बिशन दास और   569 हरदयाल को लेकर मैडम नूर खान के घर पहुंचे। वहां पहुंच कर पता चला कि वह आदमी कुछ समय पहले हाल बाजार गया है। एक सिख जिसका नाम तारा सिंह पुत्र गुज्जर सिंह वासी अमृतसर, एक बढ़ई जोकि एक स्थानीय कारखाने में कार्य करता था, वहां मौजूद था। उसने कहा कि वह उस व्यक्ति का दोस्त है। यह भी पता लगा कि उस व्यक्ति की जेब में पिस्तौल है। छापामार दस्ते ने फिर हाल बाजार में उस व्यक्ति का पीछा किया है और एक व्यक्ति देखा, जिसने सफेद रंग की पैंट और नसवारी पगड़ी बांधी हुई थी। उसका दायां हाथ उसके कोट की जेब में था। सोहने खान चौधरी ने उसको पीछे से पकड़ लिया और उसको गिरफ्तार कर लिया गया। फिर उस व्यक्ति की तलाशी ली गई और उसके कोट की बाहरी जेब में एक पिस्तौल मिला, जिसका नंबर 85869 था और इसमें पांच गोलियां भरी हुई थीं। इसको कब्जे में ले लिया गया। इस दौरान कोतवाल दीन मुहम्मद वहां पहुंच गया और पूछताछ दौरान उस व्यक्ति ने अपना नाम उदय सिंह पुत्र टहल सिंह वासी सुनाम, पटियाला रियासत बताया। उसने कहा कि वह एक महीना पहले अमरीका से आया है, देश को अंग्रेजों से आजाद करवाने के लिए। पूछताछ के दौरान उसने अपने एक साथी के बारे में बताया और एक अटैची के बारे, जो अमृतसर काला सिंह के कारखाने में पड़ी थी। छापामार दस्ता कटड़ा शेर सिंह काला सिंह के कारखाने पर गया, परन्तु वहां ताला लगा हुआ था। काला सिंह के बारे में कुछ पता नहीं लग रहा था। ताला तोड़ दिया गया और अटैची ढूंढ ली, जोकि बंद थी। उदय सिंह ने चाबी दे दी। अटैची में एक भरा हुआ पिस्तौल नंबर 362308, एक और खाली पिस्तौल नंबर 1788 और 139 कारतूस, एक काले रंग की ऊनी जाकेट, एक काला पर्स, 6 तस्वीरें जिनमें एक उधम सिंह की और एक और किसी औरत की, कुछ दस्तावेज, एक रसीद, एक आटोमैटिक पिस्तौल जिसमें गोलियां भी थी कुछ सर्टीफिकेट, एक कार्ड, एक माचिस की खाली डिब्बी, एक लि$फाफा जिस पर अंग्रेजी में पता लिख हुआ था और नीचे लिखी किताबें या पंफलेट शामिल थे : (1) गदर-दी-गूंज, (2)  रूसीगदर ज्ञान, गदर-दी-गूंज) , (4) डायरी, (5) गुलामी का ज़हर, (6) रूसी गदर ज्ञान, देश भक्त-दी-जान आदि

                यह सब वस्तुएं कब्जे में ले ली गईं।  एक्ट 11. 78, धारा 20 के तहत मुकद्दमा दर्ज किया गया। इस संबंध में कोतवाल को सूचित किया गया।।

                                                                                        तारीख : 30.08.27
सरवर अली शाह

                कोतवाल  रिपोर्ट

  इस रिपोर्ट को दस्ती आगे भेजा गया परन्तु इस पर कार्रवाई अभी विचाराधीन है।

तारीख : 30.08.1927                              सरवर अली खान  ड्यूटी अफसर

                              अतिरिक्त संकेत

 नंबर              रिपोर्ट की तारीख          जांच अधिकारी का नाम

                           ————————————————

1          30-08-27                           मुराद अली सब-इंस्पैक्टर

2          31-08-27 सुबह                   मुराद अली सब-इंस्पैक्टर
31-08-27 शाम

3          01-09-27 सुबह                   मुराद अली खान
11 02-09-27 शाम             सब इंस्पैक्टर

4          02-09-27 सुबह                      ……….
11 02-09-27 शाम

5         02-09-27 सुबह              गोगा सिंह सिटी आई.डी.
06 -09-27 सुबह
6         07 -09-27                     गोगा सिंह सिटी आई.डी.
7         08 -09-27                             ………
8         09 -09-27                               ………
9         10 -09-27                               ………
10       14 -09-27                             मुराद अली

————————————————

चालान रिपोर्ट के बाद दाखल सूचना

चालान रिपोर्ट आगे भेजने की तारीख और धारा जिसके तहत अपराधी का चालान पेश किया –  14-09- 27

गवाहों  के नाम   – हरदियाल सिंह, नूर जान खान , दीन मुहम्मद

अपराधी का  पता – शेर सिंह उर्फ उदय सिंह उर्फ  फ्रेंक ब्राजील वासी सुनाम, पटियाला रियासत मुकद्दमें का फैसला

बरामद हुआ असला  – कारतूस 150

—————————————————

चालान अदालत में अतिरिक्त भेजी सूचना

अदालत में अपील पहुंचने की तारीख – 23/1/1928

अपराधी ने सजा पाई या बरी हुआ , अपराधी की अपील –    बरखास्त

 मुकद्दमें का नतीजा, सजा पाई/बरी होने की तारीख  – ए.डी.एम. स. बिशन सिंह ने उदय सिंह उर्फ  शेर सिंह को  01.10.27 को बामुशक्कत 5 साल की सजा सुनाई

 ————————————————

दस्तख़्त : जगन्नाथ

(स्रोत : एफ.आई.आर. नंबर 327/139, तारी$ख 30 अगस्त, 1927, शेर सिंह

 

Advertisements

1 COMMENT

  1. उधम सिंह के बारे पुख्ता सबूतों के अभाव में भ्रांतिया फैलाई जा रही है।

    आशा है देश हरियाणा अमेरिका से संपर्क के बाद उस औरत का पता लगा पायेगा जिसका फ़ोटो अटेची से मिला।

    आपके प्रयास को नमन।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.