placeholder

8 मार्च – अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास

Post Views: 434 – सोनी सिंह 8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस दुनिया भर में हर साल मनाया जाता है। यह महिलाओं की आर्थिक, राजनीतिक और सामजिक उपलब्धियों के उपलक्ष्य त्यौहार…

placeholder

खतरनाक औरत

Post Views: 438 [youtube https://www.youtube.com/watch?v=xL3hcz5HwIc&w=560&h=315] खतरनाक औरत यह कविता देस हरियाणा द्वारा आयोजित तीसरे हरियाणा सृजन उत्सव में 9 फरवरी 2019 को राष्ट्रीय बहुभाषी कवि सम्मेलन में सुनाई गयी थी।…

placeholder

 डॉ. गुरमीत सिंह – मीडिया और खाप पंचायते

Post Views: 432 जहां तक ऑनर किलिंग की घटनाओं की रिपोर्टिंग का प्रश्न है तो सभी समाचार पत्रों, चैनलो व बाकी माध्यमों ने इस नृशंस अपराध को पर्याप्त संवेदना के…

placeholder

कृषि और महिलाएं -अंजू

Post Views: 869 आलेख हमारा प्रदेश कृषि प्रधान है। प्रदेश की जनसंख्या का लगभग 75 प्रतिशत हिस्सा कृषि के कार्य में संलग्न है। यहां के निवासियों की आजीविका का मुख्य…

placeholder

महिला की पूर्व निर्धारित भूमिका में बदलाव -सुमित सौरभ 

Post Views: 874 सामाजिक न्याय अपने निर्माण के पचास वर्षों के दौरान हरियाणा राज्य का तीव्र आर्थिक विकास हुआ है। विकास के माप हेतु निर्मित सूचकांक के विभिन्न सूचकों को…

पहली बार लेखक की हैसियत से – सोना चौधरी

Post Views: 968 9 मई 2016 को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र में ‘देस हरियाणा’ पत्रिका की ओर से लेखक से मिलिए कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें लेखक सोना चौधरी से छात्रों,…

placeholder

मोलकी – टेक चन्द

Post Views: 1,167 कहानी कहने को दिल्ली, पर दिल्ली-हरियाणा बार्डर से सटा गांव। बोली, बाना, रिवाज और लोग सब हरियाणवी। हल्की गर्मियों की सांझ चार बजे का समय है। मोहल्ले…

हमारी कल्चर व समाज सारा ही सेक्सुअल – कृष्ण बेनीवाल

इंसान उसको कहते हैं जिसमें प्रेम हो, करुणा हो, दया हो, सहानुभूति हो। हमारी शक्ल इंसानों से मिलती है हम इंसान थोड़े ही हैं।

आजादी मेरा ब्रांड -अनुराधा बेनीवाल

Post Views: 1,303 7 अप्रैल 2016 को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र में ‘देस हरियाणा’ पत्रिका के तत्वाधान में ‘अपने लेखक से मिलिए’ कार्यक्रम हुआ, जिसमें ‘आजादी मेरा ब्रांड’ की लेखिका अनुराधा…

placeholder

स्त्री सृजनः अनुभव व उपलब्धियां

Post Views: 871 प्रस्तुति – अनुराधा हरियाणा सृजन उत्सव के दौरान 25 फरवरी 2018 को ‘स्त्री सृजन संकल्पः उपलब्धियाँ और अनुभव’ विषय पर परिचर्चा हुई। युवा कवियत्री विपिन चौधरी, नाटक…