placeholder

हमेशा चिंता में गात रहा न्यूए दसौटा काट्या – खान मनजीत भावडिय़ा

Post Views: 621 रागनी हमेशा चिंता में गात रहा न्यूए दसौटा काट्या, कद आया बचपन कद आई जवानी कोन्या बेरा पाट्या (टेक)   घास ल्याणा सान्नी-सपान्नी सदा काम में हाथ…

placeholder

धरती बिन कोये धरती कारण धरै गये धार पै – राजेश दलाल

Post Views: 215 रागनी धरती बिन कोये धरती कारण धरै गये धार पै भूखमरी की भेंट चढे कोये धन की मारो-मार पै भूमि बिना बेचारा होज्या ना हो ठेल-ठिकाणा-ठोस दो…

placeholder

रागनियां – रणबीर सिंह दहिया

Post Views: 518 रणबीर सिंह दहिया जिला रोहतक के गांव बरोणा में 11 मार्च, 1950 को जन्म। 1971 में एम बी बी एस तथा 1977 में एम एस की। सामाजिक…

placeholder

मंगतराम शास्त्री

Post Views: 515 मंगतराम शास्त्री जिला जीन्द के टाडरथ गांव में सन् 1963 में जन्म। शास्त्री, हिन्दी तथा संस्कृत में स्नातकोतर। साक्षरता अभियान में सक्रिय हिस्सेदारी तथा समाज-सुधार के कार्यों…

placeholder

रामेश्वर दास गुप्ता

करनाल जिले केसिधपुर गांव में साधारण दुकानदार के घर 9 मई 1951 को जन्म। थानेसर से जे.बी.टी. की। हरियाणा शिक्षा विभाग में शिक्षक रहे। साक्षारता अभियान में सक्रिय भागीदारी। सेवानिवृति के बाद साहित्यिक कार्य में व्यस्त। च्यौंद कसूती (रागनी संग्रह), डंगवारा (रागनी संग्रह), दंगे पागल होते हैं (कविता संग्रह), त्रिवेणी(दोहे, कुण्डलियां, हरियाणवी गजल) रचनाएं प्रकाशित।

placeholder

रामधारी खटकड़

जिला जीन्द के खटकड़ गांव में 10 अप्रैल, 1958 में जन्म। प्रभाकर की शिक्षा प्राप्त की। कहानी, गीत, कविता, कुण्डलियां तथा दोहे लेखन। समसामयिक ज्वलंत विषयों पर दो सौ से अधिक रागनियों की रचना। रागनी-संग्रह शीघ्र प्रकाश्य। वर्तमान में महर्षि दयानन्द विश्वविद्यालय, रोहतक में कार्यरत।

placeholder

पं. मांगे राम की धमाकेदार रागनी

पं. मांगे राम की धमाकेदार रागनी
सारी उम्र गयी टोट्टे म्हं ना खाया टूट गुजारे तै
कोणसा खोट बण्या साजन गई रूस लक्ष्मी म्हारे तै
देखिये-सुनिए-पढ़िए
desharyana.in

placeholder

हरियाणा की मशहूर रागनियां

Post Views: 592 रागनियां रागनियां        प्रिय, पाठको, हम आपके लिये लेकर आ रहे हैं, डा. सुभाष चंद्र द्वारा संपादित पुस्तक – हरियाणवी लोकधारा प्रतिनिधि रागनियां – चुन कर कुछ…